छोटी साली का सील तोड़ा

हाय फ्रेंड्स मेरा नाम अनुज है मेरी उम्र 30 साल है मैं दिल्ली का रहने वाला हूँ और दिल्ली मैं ही एक अच्छी पोस्ट पर नौकरी करता हूँ मेरी शादी एक साल पहले कानपुर की रहने वाली शिप्रा के साथ हुई शिप्रा की 2 शादीशुदा बहनें कंचन (उम्र 32), प्रीति (उम्र 28) 2 छोटी कुँवारी बहनें कामिनी (उम्र 20),प्रिया (उम्र 18) और एक छोटा भाई अरुण है जो दिल्ली मैं ही एक हॉस्टल मैं रहकर पढ़ रहा है मुझे लगता है की भगवान जब देता है तो छप्पर फाड़ के देता है ये बात ग़लत नहीं है क्योकी मुझे तो भगवान ने 3 सालीयां दी और वो भी एक से बड़कर एक सुंदर शिप्रा की सभी बहनों मैं कंचन और प्रिया सबसे सुंदर हैं मैने शादी से पहले किसी लड़की को टच तक नहीं किया था और शादी के बाद तो जैसे सावन की बहार सी आ गयी इससे पहले मैं आपको अपनी कहानी “जयपुर वाली साली बनी घरवाली” बता चुका हूँ की कैसे मैने कंचन को और उसके पति सतीश ने शिप्रा से खुलकर मज़े किए.

अब मैं आपको अपनी एक और कहानी बताता हूँ जो की कुछ महीने पहले की ही कहानी है। जैसे की पिछली स्टोरी मैं मिले एक दिन शिप्रा अपनी माँ से फोन पर बात कर रही थी तो उसकी माँ ने कहा की उनके रीलेशन मैं एक ज़रूरी शादी है लेकिन घर पर कोई नहीं है और आजकल शहर मैं चोरी बहुत हो रही हैं इसलिये अब वो सोच रहे हैं की ना जाये शिप्रा ने कहा की माँ शादी कब है तो उन्होने बताया की 4 दिन बाद इसी रविवार को शिप्रा बोली की माँ इनकी 2 दिन की शनिवार,रविवार की छुट्टी है हम लोग आ जायेगे वो बोली की तुम लोगों को काफ़ी तकलीफ़ हो जायेगी.

शिप्रा बोली कोई बात नहीं माँ हम लोग आ जायेगे और फोन रख दिया तब मैने शिप्रा से कहा की यार दो दिन मैं दिल्ली से कानपुर और फिर वापस आने मैं काफ़ी थक जायेगे मैं 2 दिन की छुट्टी और ले लेता हूँ ऐसे भी रविवार की तो शादी है वो लोग मंगलवार तक ही आ पायेगे वो बोली ठीक है.

हम लोग शुक्रवार नाइट मैं कानपुर 11 pm तक पहुँच गये शादी के लिए उन लोगों को भी उसी रात को ट्रेन से निकलना था मेरी सास,ससुर,कामिनी, अरुण सभी तैयार थे लेकिन प्रिया नहीं जा रही थी मैने प्रिया से पूछा तुम क्यों नहीं जा रही हो तो उसने कहा मेरा मन नहीं है जाने को और ऐसे भी आप लोगों की सेवा कौन करेगा वो सभी लोग रात को एक बजे ही निकल गये उनके जाने के बाद मैं शिप्रा और प्रिया एक ही रूम मैं सो गये मेरी रात मैं 3 बजे करीब नींद खुली मैंने टायलेट करने के लिए लाइट जलाई टायलेट से आकर मैने देखा की प्रिया का एक बूब्स उसके टॉप मैं से आधे से भी ज़्यादा दिखाई दे रहा है मेरी नियत बिगड़ गयी मैने सोचा की एक बार टच करके देखता हूँ दोनो ही गहरी नींद मैं हैं अभी तो सोई हैं जल्दी नहीं जागेंगी मैने काँपते हुये अपना एक हाथ धीरे से उसके बूब्स पर टच कर दिया बड़े ही मस्त बूब्स थे उसके एकदम एक्युरेट साइज़ 38 राउंड शेप और कसे हुये तभी प्रिया ने करवट बदल ली और मुझे लगा की कही वो जाग ना जाये.

मैं अब उसके दूसरी तरफ बैठ गया और उसके बूब्स को देखने लगा मैने सोचा की अब ज़्यादा रिस्क नहीं लेना चाहिये और मैने धीरे से उसकी टॉप का एक बटन बंद किया और अपने बिस्तर पर आकर सोने की कोशिश करने लगा मुझे काफ़ी देर बाद नींद आई सुबह मैं सबसे लेट लगभग 8 बजे जगा शिप्रा मेरे लिए चाय लेकर आई मैने शिप्रा से पूछा प्रिया कहाँ है तो वो बोली उपर छत वाले कमरे मैं शायद पढाई कर रही होगी उनका पढाई वाला रूम उपर था और उस रूम मैं एक कंप्यूटर भी था चाय पी कर अपने बाकी सभी काम किये और नहाने चला गया नहाने के बाद मैं कपड़े सुखाने के लिए छत पर गया तो मैने देखा की प्रिया कंप्यूटर पर बैठी है और कुछ कर रही है लेकिन वो उसमें इतनी मग्न थी की मेरी तरफ उसका ध्यान नहीं गया.

जब मैं कपड़े सूखाने के बाद उसके पास जाने लगा तो उसको लगा की कोई आ रहा है तो उसने बड़ी जल्दी से उस पेज को क्लोज़ कर दिया मैं समझ गया की शायद वो कुछ एडल्ट आइटम देख रही है और मुझसे हड़बड़ाते हुये बोली- जीजू आओ मैने कहा क्या चल रहा है तो वो बोली कुछ नहीं जीजू और कंप्यूटर बंद करने लगी तो मैने कहा की थोड़ा कंप्यूटर चलने दो मुझे अपने मैल चेक करने है प्रिया बोली ओके बैठ जाइये मैं उसके पास बैठ गया लेकिन वो नीचे जाने लगी तो मैने कहा बैठो प्रिया बोली नहीं जीजू मुझे नहाना है उसके बाद आऊंगी मैने कहा ओके.

उसके जाने के बाद मैने कंप्यूटर मैं रीसेंट एक्टिविटीस मैं सर्च किया तो देखा की उसमें उसने सेक्स से संबंधित ही आइटम्स देख रखे थे ओर उसमें 4-5 पॉर्न मूवी क्लिप भी थी अब मेरे दिमाग़ मैं आया की वो दोपहर मैं छत पर आकर रूम का दरवाजा बंद करके अकेली सोती है शायद वो ये सब उस समय भी देखती होगी मैने सोचा की देखते हैं की आज वो कुछ देखती है या नहीं मेरे पास एक निकॉन का हैंड कैमरा है जिसमें 8 जी.बी का मेमोरी कार्ड है ओर जिसमें 3 घंटे तक की वीडियो कैप्चर कर सकते हैं मैने अपने प्लान के अनुसार 1 बजे दोपहर मैं उस कमरे मैं मेरा कैमरा ओंन करके इस तरह से कपड़ो के बीच मैं छुपा दिया की उसमें कंप्यूटर स्क्रीन और कुर्सी पर बैठने बाला पर्सन आराम से दिखाई दे साथ ही साथ मैने उस कमरे मैं लगे दूसरे दरवाजे को जो की ठीक कंप्यूटर स्क्रीन के सामने था और जो हमेंशा बंद रहता है उसकी कुण्डी खोल दी ओर उसका पर्दा लगा दिया.

इसके बाद मैं नीचे चला गया कुछ देर बाद मैं प्रिया उपर जाने लगी उस समय मैं टी.वी देख रहा था मैने उससे पूछा कहाँ जा रही हो प्रिया मूवी नहीं देखोगी आज तो अच्छी मूवी आ रही है प्रिया बोली नहीं जीजू नींद आ रही है उपर सोने जा रही हूँ यह कहते हुये वो उपर चली गयी मैं टी.वी देखने लगा और शिप्रा भी अपने कमरे मैं सोने लगी जैसे ही शिप्रा सो गयी मैं लगभग 2 बजे करीब उपर वाले कमरे के दरवाजे के पास पहुँच गया दरवाजा बंद था मैं चुपके से उस दरवाजे की तरफ़ गया जिसको मैने पहले ही खोल दिया था मैने धीरे से दरवाजा खोला और अंदर देखा तो प्रिया की पीठ मेरी तरफ थी ओर वो कोई सेक्स क्लिप देख रही थी मैं धीरे से अंदर घुस गया और पर्दे के पीछे छुपकर उसको देखने लगा मैने देखा की प्रिया ने अपना पजामा नीचे कर रखा है ओर वो अपनी चूत को अपने हाथ से सहला रही है ओर कभी कभी अपने एक हाथ से अपने बूब्स भी दबा रही है.

मैं ये सब देखकर खुश था क्योकी आज मुझे एक नया स्वाद जो मिलने वाला था मैं धीरे से उसके पीछे गया और उसके पास जाकर खड़ा हो गया वो मुझे देखते ही डर गयी ऐसा लग रहा था जैसे उसको किसी ने मर्डर करते हुये पकड़ लिया हो उसने अपनी नज़रें नीचे झुका ली और अपने दोनो हाथो से अपनी चूत को ढक लिया मैने कहा प्रिया तुम तो बोल रही थी नींद आ रही है मूवी नहीं देखनी अच्छा तो ये मूवी देखनी थी ठीक है हमें भी दिखाओ हम भी तो देखें कैसी मूवी देखती हो.

प्रिया धीरे से बोली- सॉरी जीजू मुझे माफ़ कर दो अब नहीं देखूँगी (साथ ही साथ उसने अपना पजामा भी उपर कर लिया) मैने कहा मैं तो मना नहीं कर रहा हूँ देखो प्रिया बोली सॉरी जीजू अब नहीं देखूँगी प्लीज़ आप ये बात पापा या मम्मी या दीदी को मत बताना मैने कहा ठीक है नहीं बतायेगे इस पर प्रिया बोली –थैंक्स जीजू मैने कहा थैंक्स ऐसे नहीं होगा और अपने होठो पर अपनी जीभ फेरते हुये बोला- कुछ तो करना होगा प्रिया समझ चुकी थी लेकिन फिर भी बोली क्या मैने कहा वो सब जो तुम उस वीडियो क्लिप मैं देख रही थी वो बोली- नहीं जीजू बिल्कुल नहीं प्लीज जीजू प्लीज मैने कहा उसमें देखकर मज़ा ले रही हो सीधे सीधे ही ले लो वो बोली नहीं जीजू बिल्कुल नहीं जीजू मैं अभी कुँवारी हूँ मैं शादी से पहले ये सब नहीं करूँगी.

मैने कहा शादी से पहले फिर ये सब क्यों कर रही थी अपने बूब्स को और चूत को क्यों रग़ड रही थी तो वो कड़क आवाज़ मैं बोली- जो भी हो मैं नहीं दूँगी प्लीज़ आप मान जाओ जीजू मैंने सोचा की उसको कैसे भी थोड़ा तैयार किया जाये बाकी बाद मैं सोचेंगे मैने कहा ठीक है उपर से ही दे दो प्रिया बोली उपर से मतलब? मैने कहा किस दे दो और उपर से टच करने दो वो बोली आप मान जाओ जीजू प्लीज मैने कहा इतने से काम मैं काम नहीं चलेगा जब उसे लगा की मैं नहीं मानने वाला तो वो बोली ठीक है जल्दी से करो मैने उसको कंप्यूटर के पास ही खड़े रहने दिया जिससे की उसकी वीडियो मेरे साथ बनती रहे.

मैने उसको बाहों मैं भर लिया और उसके होठो पर अपने होंठ रख दिये और उनको चूसना शुरू कर दिया मेरा एक हाथ उसके बूब्स पर और एक हाथ पीछे कभी उसके चूतड़ और कभी पीठ पर लेकर सहलाने लगा धीरे धीरे मैं अपना एक हाथ बूब्स से हटाकर नीचे ले जाने लगा तो उसने अपने हाथ से मेरा हाथ रोकना चाहा लेकिन मैने झटके से अपना हाथ उसकी पेंटी के अंदर डाल दिया जैसे ही मेरा हाथ उसकी चूत के पास पहुँचा मुझे फील हुआ की उसकी चूत पर हल्के हल्के मुलायम से बाल हैं और चूत गीली भी हो रही है शायद इसलिये क्योकी वो वीडियो क्लिप जो देख रही थी उसने अपने होठो को मेरे होठो से हटा लिया और गुस्से से बोली-निकालो अपना हाथ बाहर बहुत हो चुका मैने कहा अभी नहीं मुझे एक बार अपने बूब्स से दूध तो पिला दो वो बोली जीजू मान जाओ दीदी उपर आ सकती हैं मुझे लगा वो ठीक कह रही है लेकिन फिर भी मैने उसके बूब्स को दोनो हाथो से थोड़ी देर अंदर हाथ डालकर सहला ही लिया.

थोड़ी देर बाद वो नीचे चली गयी और मैने कपड़ो के बीच मैं रखा कैमरा निकाला तो देखा उसमें सब कुछ सेव था जो पिछले 2 घन्टो मैं हुआ था मुझे बड़ी ख़ुशी हुई की अब तो मैं प्रिया को चोद कर ही छोड़ूँगा और वो भी कुँवारी चूत को मैंने उसका कंप्यूटर ओंन करके उस रिकॉर्डिंग को उसमें सेव कर दिया और नीचे आ गया शिप्रा अभी तक सो रही थी और प्रिया टी.वी देख रही थी लेकिन उसका ध्यान कहीं और था वो परेशान लग रही थी वो दोबारा से छत पर गयी और थोड़ी देर बाद नीचे आ गयी मैने उससे कहा की प्रिया आज रात को दूध पीना है आ जाना वो बोली तमीज़ से बात करो जीजाजी उसके तेवर बिल्कुल बदल गये थे मैने कहा अच्छा तो सबको बताना पड़ेगा क्या वो बोली-क्या बताओगे मैने सब कुछ कंप्यूटर से डिलीट कर दिया है तो मैने कहा और तुमको जो मैने किया है वो? प्रिया बोली वो किसने देखा है मैं तुम्हारे उपर उल्टा इल्ज़ाम लगा दूँगी समझे। मैने कहा तुम तो बहुत चालक हो.

मैने कहा इसका मतलब रात को दूध नहीं पिलाओगी वो कुछ नहीं बोली और ऐसे ही खड़ी रही जैसे जीत गयी हो और उसने कुछ किया ही नहीं हो मैने अपनी पॉकेट से कैमरा निकालते हुये कहा ठीक है ये कैमरा लो और इसमें वो सब कुछ है जो आज उस रूम मैं हुआ लो देख लो डिलीट मत करना सब सेव कर लिया है उसने कैमरा लिया और 2 मिनिट मैं सब कुछ देख लिया प्रिया बोली जीजू आप तो बहुत गंदे हो मैं आपको ऐसा नहीं समझती थी और रोने जेसी सूरत लेकर चली गयी शाम को जब मैं डिनर कर रहा था तब शिप्रा ने किचन से प्रिया को कहा की अपने जीजाजी को पानी दे दे तो वो मेरे पास पानी देने आई मैने उसका हाथ पकड़ लिया और कहा की आज पानी से काम नहीं चलेगा आज तो दूध पीयेगे वो हाथ छुड़ाकर जाने लगी तो मैने कहा आज अपनी दीदी को बोल देना मैं दूसरे कमरे मैं सो जाऊंगी और अगर यही सोना है तो मैं तो यहाँ भी दूध पी लूँगा.
शिप्रा जब रात के समय सोने की तैयारी करने लगी तो प्रिया उसके पास आई और बोली- दीदी मैं दूसरे कमरे मैं सो जाऊंगी मुझे थोड़ी पढ़ाई भी करनी है शिप्रा बोली ठीक है और मैं प्रिया की तरफ देखकर मुस्कुरा दिया रात को 10 बजे करीब शिप्रा सो गयी और मैं भी सोने का बहाना करने लगा था जब शिप्रा सो गयी तो मैं धीरे से वहाँ से उठा और प्रिया के कमरे मैं पहुँच गया प्रिया को मैने धीरे से आवाज़ लगाई तो वो सोने का बहाना कर रही थी मैने उसको जगाने की कोशिश की लेकिन वो बहाना बना रही थी वो समझ रही थी की शायद ऐसे ही छुटकारा मिल जायेगा.

मैने अपना एक हाथ उसकी पीठ के नीचे और एक हाथ उसकी जांघों के नीचे लगाया और उसको अपनी गोदी मैं उठा लिया और उपर वाले कमरे की तरफ ले जाने लगा उसने आँखें खोल दी और रोते हुए बोली जीजू प्लीज मान जाओ मुझे छोड़ दो मैने उसे बहलाते हुए कहा मैं तुमको परेशान नहीं करूँगा बस थोड़ा सा दिल हमारा भी रख लो मैं उसको उपर वाले कमरे मैं ले आया और बेड पर सुला दिया प्रिया बोली जीजू मुझे खराब मत करो मैं अभी वर्जिन हूँ मैने उसको किसी भी तरह से अपनी बातों मैं लाकर उसको उसकी मर्ज़ी से चोदना चाहता था इसलिये मैने उसको बोला- ठीक है तुम्हारी चूत नहीं मारूँगा बाकी सब कुछ करूँगा लेकिन तुमको ये सब ड्रामा छोड़कर मेरा साथ देना होगा वो बोली ठीक है ओर मैने उससे कहा चलो मेरे कपड़े उतारो उसने मेरी लोवर और टी शर्ट उतार दिये और खड़ी हो गयी फिर मैने कहा अब तुम्हारे मैं उतारता हूँ तो वो बोली मैं उतार लूँगी.

मैने कहा नहीं और मैने पहले उसका टॉप और उसके बाद उसका पजामा उतार दिया अब वो सिर्फ़ गुलाबी पेंटी और काली ब्रा मैं थी बहुत ही गोरी थी वो गदराया हुआ 38-26-38 जिस्म था उसने नज़रें नीचे कर ली मैं और प्रिया अब दोनो ही एक दूसरे के सामने अंडर गारमेंट्स मैं थे मैं उसको देखे जा रहा था और वो शर्म के कारण नज़रें नहीं मिला पा रही थी मैने उसको अपनी बाहों मैं भरा और बिस्तर पर लेटा दिया धीरे धीरे उसके बूब्स को ब्रा के उपर से ही सहलाने लगा और उसके होठो को अपने होठो से मिला दिया और उसको गर्दन के आस पास चूमने लगा प्रिया ने आँखें बंद कर रखी थी मैने अपने दोनो हाथ उसकी पीठ के नीचे किये और उसकी ब्रा के हुक खोल दिये ब्रा को हटाते ही उसने दोनो हाथो से अपने चेहरे को ढक लिया लेकिन मैं तो उसको देखना चाहता था.

मैने उसके दोनो हाथो को उसके चहेरे से हटा दिया लेकिन उसने अपना चेहरा दूसरी साइड में कर लिया अब मैं धीरे धीरे से उसके गोल गोल उभारों को सहलाने लगा और प्रिया को बोला- उूऊह प्रिया जान तुम्हारे बूब्स बहुत मस्त हैं आज इनमें से सारा दूध ख़त्म कर दूँगा और ये कहते हुये मैने अपना मुँह उसके एक बूब्स मैं लगा दिया और धीरे धीरे उस पर जीभ फेरने लगा प्रिया की साँसे तेज हो रही थी मुझे लगा की अब उसको मज़ा आयेगा मैने उसके दोनो बूब्स को 10 मिनिट तक खूब प्यार किया और चूसा इस दौरान वो अपने मुँह से उऊहह उन्न्ञनह की आवाज़ निकालती रही अब मैं उसके पैरों की तरफ आ गया और उसको नीचे से किस करता हुआ उसकी चूत के अलावा सभी जगहों को किस किया.

मैने अपने एक हाथ से उसकी पेंटी को नीचे खिसका दिया और उसकी दोनो जांघों को खोल दिया उसकी चूत पर बहुत ही छोटे छोटे मुलायम सिल्की बाल थे अभी शायद एक भी बार उनको साफ नहीं किया था उसकी चूत गीली हो चुकी थी इसका मतलब उसको मज़ा आ रहा था लेकिन वो जाहिर नहीं कर रही थी मैने अपने अंडरगार्मेंट्स उतार दिये और उसकी चूत पर मुँह लगा दिया जैसे ही मैने मुँह लगाया वो डर सी गयी ओर कुछ बोलना चाहा शायद वो ‘नहीं’ बोलना चाह रही थी उसे लगा की मैने अपना लंड रख दिया है लेकिन वो तुरंत समझ भी गयी थी की मुँह है वो पता नहीं क्यों लंड से इतना डर रही थी मुझे बहुत आश्चर्य हो रहा था.

मै अपने मुँह और जीभ से उसकी चूत को चूसने लगा अपनी जीभ से उसके दाने से खेलने लगा अपनी जीभ को भी उसकी चूत मैं आगे पीछे करता कभी चूसता प्रिया को भी मज़ा आ रहा था क्योकी उसके मुँह से सिसकारियां निकल रही थी और वो लंबी साँसें ले रही थी कभी अपने हिप्स को मजे के कारण बहुत टाइट कर लेती थी और अपनी जांघों से मेरे सिर को जकड़ लेती मैने प्रिया से पूछा क्यों मज़ा आ रहा है वो पहली बार मेरी तरफ़ देखकर मुस्कुराई मैं समझ गया लेकिन फिर भी उससे बोला बोलो प्रिया मज़ा आ रहा है वो बोली हाँ जीजू बहुत मज़ा आ रहा है मुझे बहुत खुशी हुई जैसे बहुत बड़ी जंग जीत ली हो और मैं दोबारा से उसकी चूत को और ज़ोर से चूसने लगा और उसकी चूत से निकलने वाले रस को पीता रहा मैं अब उसके उपर चड गया और उसके होठो को अपने होठो मैं भर लिया और अपने लंड को उसकी चूत पर रगड़ने लगा प्रिया बोली अब बहुत हो चुका अब मुझे जाने दो.

मैने कहा असली काम तो अभी बाकी है वो बोली नहीं जीजू मैं आपके इसको सहन नहीं कर पाऊँगी मेरी ये बहुत छोटी है में मर जाऊंगी बहुत दर्द होगा मेरी चूत फट जायेगी मेरी जिससे शादी होगी वो मुझे एक्सेप्ट नहीं करेगा मैं अब समझ गया की ये इतना मज़ा आने पर भी क्यों साथ नहीं दे रही है इसको किसी ने ज़्यादा डरा दिया है सेक्स के बारे मैं मैने उससे पूछा तुम्हें किसने बोला तो प्रिया बोली मेरी फ्रेंड ने तो मैने झूठ बोलते हुये कहा की दर्द तो होगा लेकिन बहुत कम और रही चूत फटने की बात तो मैं एक ऐसी क्रीम ला दूँगा जिससे कुछ दिन बाद वैसी ही हो जायेगी तुम्हारी चूत और तुम्हारे पति को पता भी नहीं चलेगा वो बोली प्रॉमिस जीजू मैने कहा प्रॉमिस प्रिया वो बोली आहिस्ता आहिस्ता से करना बहुत लंबा है आपका ये मैने अपने लंड को उसकी चूत के छेद पर रखा और पहले उसकी चूत के मुँह पर ही धीरे धीरे आगे पीछे करता रहा मुझे पता था की उसकी नाज़ुक चूत मेरे लंड को प्यार से तो जाने नहीं देगी.

मैने अपने हाथो से उसके कंधों को ज़ोर से जकड़ लिया और एक ज़ोर का झटका उसकी चूत पर लगाया उसके मुँह से बहुत ज़ोर की चीख निकली उसकी आँखों मैं आसूं और शरीर पसीने मैं भीग गया वो छुटने की कोशिश करने लगी और बोली छोड़ो मुझे मैं मर जाऊंगी आप झूठ बोलते हो की दर्द नहीं होगा मुझे एक बार तो लगा जैसे छुट ही जायेगी मगर मैने अपने लंड को उसकी चूत मैं वहीं फंसा कर रखा वो काफ़ी देर तक छुटने की कोशिश करती रही लेकिन मैने उसको ऐसे ही 3-4 मिनिट तक पकड़े रखा मैने नीचे देखा मेरा लंड अभी आधा ही अंदर गया था और उसकी चूत से ब्लड निकल रहा था मैं समझ गया की उसकी सील टूट चुकी है मैं धीरे धीरे फिर लंड को आगे पीछे करने लगा और वो थोड़ी देर मैं नॉर्मल होने लगी.

मैं अपने लंड को आधा ही डालकर आगे पीछे करने लगा मैने जब देखा की अब वो थोड़ा नॉर्मल हो गयी है तो मैने फिर से एक और झटका लगाया और सारा लंड अंदर कर दिया इस बार फिर से प्रिया चिल्लाई और रोती हुई बोली-मार दो मुझको मेरी जान ले लो मैने कहा नहीं जान पहली बार है इसलिये दर्द हो रहा है और अब तुम्हें इससे ज़्यादा दर्द नहीं होगा क्योकी पहले सारा लंड नहीं गया था और अब सारा का सारा लंड तुम्हारी चूत के अंदर है मैने धीरे धीरे अपनी स्पीड बढ़ानी शुरू की और थोड़ी देर बाद उसका दर्द भी कम हो गया और वो मेरा साथ देने लगी अब वो मुझे बोली जीजू करो जोर से करो अंदर कुछ हो रहा है बहुत अच्छा लग रहा है मैने कहा देखा ना मज़ा आ रहा है तुम पागल हो वरना अब तक तो काफ़ी मज़े ले चुकी होती वो बोली कोई बात नहीं जीजू अभी तो सारी रात आपके पास है और मेरी गर्दन ओर होठो को किस करने लगी.

अब वो मेरा पूरा साथ दे रही थी कमर उठा उठा कर मैने अपनी स्पीड बड़ा दी उसकी चूत से पच पच की आवाज़ आने लगी क्योकी उसकी चूत ब्लड और चूत के रस से गीली थी और टाइट भी थी थोड़ी देर बाद उसने मुझे ज़ोर से जकड़ लिया वो झड़ चुकी थी और मैं भी झड़ने लगा झड़ने के बाद मैं उसके उपर ही पड़ा रहा और वो मेरे शरीर पर हाथ फेरती रही और कभी कभी मुझे किस भी करती वो अब ऐसे बिहेव कर रही थी जैसे मैने उसे सब कुछ दे दिया हो मैने उससे पूछा कैसा लगा प्रिया वो बोली जीजू स्वर्ग जैसा अनुभव था पता नहीं मैं क्यों डर रही थी मुझे मेरी फ्रेंड ने ग़लत बताया था मेरी इसमें क्या गलती है मैने कहा हाँ प्रिया इसमें तुम्हारी कोई गलती नहीं है.

मैने उसको उस रात 3 बार और चोदा एक बार घोड़ी बनाकर और एक बार वो मेरे उपर और मैं नीचे और एक बार पीछे से पीछे से मारने मैं उसने मुझे काफ़ी परेशान किया लेकिन मैने उसका वो दरवाजा भी खोल दिया हम दोनो सुबह 4 बजे तक उठे और उसके बाद मैने कहा चलो नीचे चलें तो वो बोली चलो और हम नीचे चलने लगे लेकिन प्रिया को चलने मैं थोड़ी परेशानी हो रही थी क्योकी उसकी चूत काफ़ी छिल गयी थी 3 बार की चुदाई से मैने उसको अपनी गोद मैं उठाया और उसको नीचे ले गया वो मेरी तरफ देखकर मुस्कुराई और मुझे किस किया और बोली जीजू आई लव यू और हम आकर अपने अपने कमरे मैं सो गये मैने उसको 3 दिन तक शिप्रा से छिपकर दिन और रात जब मौका मिलता खूब चोदा और 3 दिन बाद सास, ससुर के लौटने पर हम लोग दिल्ली लौट आये। तो फ्रेंड्स ये मेरी कहानी थी. और आप लोगों से मेरी एक रिक्वेस्ट है इसे शेयर करना मत भूलना..


Comments are closed.


error:

Online porn video at mobile phone


gaand gaymaa aur bete ka sexdidi ne chudwayarandi ki chudai ki kahani hindi mekamsin jawaniantarvasna free hindi sex storybehno ki gand maristory of chutwww chodanbehan bhai ki chudai storimami ki chudai hindihindi font chudaichudai ghar kikahani maa ki chudaibiwi ki choot marisex and mastihindi se xbathroom chudaimeri chut kahanimaa se shadisex story maa betamaa chachi ko chodamastram ki sex kahanisali jija ki chudai kahanisasur bahu storyhindi maa ki chudai ki kahanichut chudai landसेक्स स्टोरी हिंदी हॉर्नी भाभीhindi randimummy ko choda hindichoti ladki ka sexchudai maa semaa ke sath bete ki chudaiammi ke boobsjija sali ki kahaniindian chudai storyenglish teacher ko chodanew hindi sex kahani comhindi bahan ki chudaibhos sexladki ko kaise chodubehan ki gand mari sex storiesmaa chudai sex storynew chudai story with photochut chudai desi kahanichut me lund ki kahaniaunty aunty sexaunty ka balatkarbhabhi ko choda in hindimast chut ki chudaiantarvasna chudai photoसविता भाभी की चुदाई भाग2क्सक्सक्स हिंदी चाची की चुड़ै कहानीchavat katha newpune sex storiessex jija salisuhagrat indian sexchut aur lund ki ladaichut land kahanihindi sex sex sexmaa ki chodai kahanichudail ki kahani photobhabhi sang devarchut lelobhai bahan sexymummy ki chudaiaunty ke saath chudaiantarvasna only hindimarathi kaku sexantarasna comristo mai chudairandi kahanihindi sex katha storychudai ki kahani new storyसुबह सुबह पड़ोसन की चुदाई हिंदी कहानीchodne ki photo hotchoot lund videoAntarvasna hindi insectdesi chachi ki chudai storymeri anokhi chudaibhabi ki chot mariaantarvasana comchudaiससुर ने muze छोटी ड्रेस पहनाकर choda